अटल बिहारी वाजपेयी , जिनका जन्म 25 दिसम्बर 1924 मध्य्प्रदेश के ग्वालियर जिले के मध्यम वर्ग परिवार में जन्म हुआ था , इनके पिता कृष्ण वाजपेयी जो मध्य प्रदेश के ग्वालियर रियासत में अध्यापक थे , और माता का नाम कृष्णा देवी था । 

atal-bihari-vajpayee-quotes


सरस्वती स्कूल से स्कूलिंग करने के बाद अटल जी ने लक्ष्मीबाई कॉलेज से ग्रेजुएशन पूरा किये और इसके बाद उन्होंने कानपूर के DAV कॉलेज से इकोनोमिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा किये । उन्होंने लखनऊ के लॉउ कॉलेज में आगे पढ़ने के लिए आवेदन भी दिया, लेकिन फिर उनका पढाई में मन नहीं लगा और वे RSS द्वारा पब्लिश मैगजीन में एडिटर का काम करने लगे । अटल जी को एक बहुत अच्छे पत्रकार, राजनेता व कवी के रूप में जाना जाता है ।

अटल जी ने शादी नहीं की, लेकिन उन्होंने B N कॉल की 2 बेटियां नमिता और नंदिता को गोद लिया था । अटल जी सच्चे देश भक्त रहे, पढाई करते समय भी वे आजादी की लड़ाई में बड़े बड़े नेताओं के साथ खड़े रहे । वे उस समय बहुत से हिंदी न्यूज़ पेपर के एडिटर भी रह चुके थे ।

Atal Bihari Vajpayee Hindi Quotes


अटल जी ने विभिन्न मंचों पर कई ऐसी बातें कही थीं, जोकि हर किसी को सोचने पर मजबूर कर देती हैं। आज हम यहां पर बाजपेयी जी की कही गई ऐसी ही 15 बातों को बताने जा रहे हैं।

  छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता । 

vajpayee-quote

 जीत और हार जीवन का एक हिस्सा है, जिसे समानता के साथ देखा जाना चाहिए ।

 होने, ना होने का क्रम, इसी तरह चलता रहेगा. हम हैं, हम रहेंगे, ये भ्रम भी सदा पलता रहेगा ।

 मैं हमेशा से ही वादे लेकर नहीं आया, इरादे लेकर आया हूँ ।

आप मित्र बदल सकते हैं पर पड़ोसी नही ।

atal-bihari-vajpayee

 क्यों मैं क्षण-क्षण में जियुं? कण-कण में बिखरे सौंदर्य को पियूं? 

 गरीबी बहुआयामी है यह हमारी कमाई के अलावा, स्वास्थ्य राजनीतिक भागीदारी, और हमारी संस्कृति और सामाजिक
संगठन की उन्नति पर भी असर डालती है.

 लोकतंत्र एक ऐसी जगह है जहाँ दो मूर्ख मिलकर एक पावरफुल इंसान को हरा देते हैं ।

मैं हमेशा से ही वादे लेकर नहीं आया बल्कि इरादे लेकर आया हूँ ।
 कड़ी मेहनत कभी भी थकान नहीं लाती हैं वो संतोष लाती हैं ।

सारी दुनिया हमारे पास आ रही हैं लेकिन हम इतन बड़े पागल हैं कि हम दूसरे देश जा रहे हैं ।

मेरे पास न दादा की दौलत और न ही बाप की , मेरे पास सिर्फ माँ का आशीर्वाद हैं ।

सच सबसे बड़ा हथियार हैं और हर कोई जानता है की सरकारी जगहों पर हथियार लेकर नही जा सकते ।

अगर भारत धर्मनिरपेक्ष नहीं होता तो भारत भारत नहीं होता ।

atal-bihari-vajpayee-quote

छोटे मन के कोई बड़ा नहीं होता , टूटे मन से कोई खड़ा नही होता 
और नया पुराने