राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी है , इनको बापू के नाम से भी जाना जाता हैं , इनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 ई. को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था । इनके माता जी का नाम पुतली बाई और पिता करमचंद गांधी थे , इनके पिता जी राजकोट के दीवाने थे और इनकी माता जी जो धार्मिक विचार वाली थी और महात्मा गांधी पर भी उनके विचारों पर बहुत प्रभाव पड़ा ।
gandhi-jayanti-quotes

गांधी जयंती पर कविता हिंदी में - 


जन्मदिवस बापू का आया
सारे जग ने शीश नवाया
यह जीवन की शिक्षा का दिन
पावन आत्मपरीक्षा का दिन
मानवता की इच्छा का दिन
जगती का कण-कण हर्षाया
जन्मदिवस बापू का आया ।

जिसने खुशियाँ दी जीवन को
कोटि-कोटि दलित जनों को
सरल कर दिया जीवन रण को
ऊँच-नीच का भेद मिटाया
जन्मदिवस बापू का आया
जन्मदिवस बापू का आया
सत्य प्रेम का पथ अपना कर
क्षमा, कर्म के भाव जगा कर
स्वर्ग उतारा था वसुधा पर
युग का था अभिशाप मिटाया
जन्मदिवस बापू का आया ।

आज तुम्हारी मीठी वाणी
गूँज रही जानी पहचानी
अमर हुए तुम जीवन-दानी
घर-घर नव प्रकाश लहराया
जन्मदिवस बापू का आया
तुमने अपना आप गँवाकर
दानवता के बाग़ मिटाकर
सबके आगे माथ झुकाकर
मानवता का मान बढाया
जन्मदिवस बापू का आया ।

सोचो और बताओ आखिर है किसकी तस्वीर
नंगा बदन कमर पर धोती और हाथ में लाठी
बूढी आँखों पर है ऐनक, कसी हुयी कद काठी
लटक रही है बिच कमर पर घडी बंधी जंजीर
सोचो और बताओ आखिर है किसकी तस्वीर.
उनको चलता हुआ देख कर आंधी शर्माती थी
उन्हें देख कर अंग्रेजों की नानी मर जाती थी
उनकी बात हुआ करती थी पत्थर खुदी लकीर
सोचो और बताओ आखिर है किसकी तस्वीर ।

वह आश्रम में बैठे चलाता था पहरों तक तकली
दिनों और गरीब का था वह शुभचिन्तक असली
मन का था वो बादशाह पर पहुँचा हुआ फ़क़ीर
सोचो और बताओ आखिर है किसकी तस्वीर.
सत्य और अहिंसा के पालन में पूरी उम्र बिताई
सत्याग्रह कर करके जिसने आजादी दिलवाई
सत्य बोलता रहा जीवन भर ऐसा था वो वीर
सोचो और बताओ आखिर है किसकी तस्वीर ।

जो अपनी ही प्रिय बकरी का दूध पिया करता था
लाठी, डंडी, बंदूकों से जो ना कभी डरता था
तिस जनवरी के दिन जिसने अपना तज़ा शारीर
सोचो और बताओ आखिर है किसकी तस्वीर ।

राष्ट्रपिता जो कहे जाते है,
प्यार से बापू उन्हें बुलाते हैं।
जिन्होंने देश को आज़ाद कराया।
सत्य अहिंसा का पाठ पढ़ाया।
महात्मा गांधी वो कहलाते हैं।
उन्होंने विलास को छोड़कर,
अपना जीवन देश की आज़ादी में लगाया।
विदेषी कपड़ों को त्याग कर उसने ।
देशी का महत्व समझाया।
कई आंदोलन और सत्याग्रह किये।
अंग्रेजों से लड़ने के लिए,
लोगों को अपने साथ किये,
देश को आज़ाद कराने के लिए।
सत्य अहिंसा के मार्ग पर चलकर।
अंग्रेजों से लड़ी लड़ाई।
अपना तन मन धन सब कुछ सौंप दिया
अपने आपको पूरा झोंक दिया।
अंत तक लड़ी लड़ाई देश को आज़ादी दिलायी ।

Gandhi Jayanti Quotes in Hindi


प्रेम दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति है और फिर भी हम जिसकी कल्पना कर सकते हैं उसमे सबसे नम्र है।
- महात्मा गाँधी

जो समय बचाते हैं, वे धन बचाते हैं और बचाया हुआ धन, कमाएं हुए धन के बराबर है।
- महात्मा गाँधी

व्यक्ति अपने विचारों से निर्मित प्राणी है, वह जो सोचता है वही बन जाता है ।
 - महात्मा गाँधी

Gandhi-jayanti-quotes-in-hindi
आप तब तक यह नहीं समझ पाते की आपके लिए कौन महत्त्वपूर्ण है जब तक आप उन्हें वास्तव में खो नहीं देते।
- महात्मा गाँधी

जहाँ प्रेम है वहां जीवन है।
 - महात्मा गाँधी

आप आज जो करते हैं उस पर भविष्य निर्भर करता है।
- महात्मा गाँधी

थोडा सा अभ्यास बहुत सारे उपदेशों से बेहतर है ।
 - महात्मा गाँधी

खुद वो बदलाव बनिए जो आप दुनिया में देखना चाहते हैं ।
 - महात्मा गाँधी

जब तक गलती करने की स्वतंत्रता ना हो तब तक स्वतंत्रता का कोई अर्थ नहीं है ।
 - महात्मा गाँधी
Gandhi-jayanti-quotes
पाप से घृणा करो, पापी से नहीं ।
 - महात्मा गाँधी

संतोष पूर्ण प्रयास से मिलता हैं ना कि फल प्राप्ति से. पूरा प्रयास ही पूर्ण विजय हैं ।
 - महात्मा गाँधी


Post a Comment

और नया पुराने